Haryanvi Joke : Funny Jatt Joke

New Funny Haryanvi Jokes (Chutkale). Haryanvi Jokes and SMS is full of hilarious and nice to read jolly jokes

Jatt vs Baniya

एक जाट नै पेपर में किम्मे नी आवे था अररर अगला छोरा (बनिया) जमा जुटा पड़ा लिखण में;
जाट: भाई मन्ने भी दिखा दे किम्मे।
बनिया: मन्ने भी कोनी आंदा।
जाट: फेर इसा तावला तावला के तेरी बुआ का कन्यादान लिखे है?

 

Haryanvi Joke : Funny Jatt Joke

सुरजा फ़ौज मैं था, साल भर पाच्छै छुट्टी आया । सांझ-नैं उसकी बहू रामप्यारी बूझण लाग्गी अक आज कुण-सा साग बणाऊँ ?

सुरजा बोल्या – आलू एंड (and) गोभी रांध ले ! अर इतणा कह कै बाहर गाम मैं घूमण लिकड़-ग्या ।

रामप्यारी सोच मैं पड़-ग्यी – के घरां आलू बी सैं , गोभी बी सै । पर यो एंड (and) के होया ?

रामप्यारी अपणी पड़ोसण धोरै बूझण गई । पड़ोसण नैं बी कोणी बेरा था अक यो एंड के हो सै । उसनै सोची अक ना बताई तो रामप्यारी आगै बेजती हो ज्यागी ! पड़ोसण बोल्यी – एंड तो गोबर हो सै ।

बस, फेर के था ! रामप्यारी नै घरां आ-कै गोबर का छ्यौंक ला-कै साग बणा दिया ।

रोटी खाते टेम सुरजा बोल्या – आज तो सब्जी चरचरी बण रही सै !

रामप्यारी बोल्यी – एंड किमैं घणा पड़-ग्या होगा !!!

 

Haryanvi Joke : Funny Jatt Joke : MA or Chora

छोरा: माँ, एक बात बूझू?
माँ: हाँ बूझ।
छोरा: मैं गोद लिया था के?
माँ: बेटा गोद ए लेते… तो सुथरा सा न लेते।

 

Haryanvi Joke : Funny Jatt Joke – नया रंगरूट

एक बै एक छोरा फौज में भर्ती हो-ग्या । उसके कौप्टन नै सोच्या अक भर्ती तै यो हो-ए गया, न्यूं भी देख ल्यो अक इसमें कितणा दम सै । कैप्टन नै वो छोरा मैदान में बुलाया अर हाथ फैला कै खड़ा कर दिया ।

कैप्टन एक दूसरे जवान तैं बोल्या – इसके कुर्ते की बांह म्हां कै गोळी काढ़णी सै । उस जवान नै छोरे के कुर्ते की बांह पकड़ी अर फायर कर दिया । गोळी छोरे की बाह म्हां कै लिकड़-ग्यी । कैप्टन बोल्या – भाई, इसका कुर्ता बदलवा दो !

छोरा बोल्या – जी, कुर्ते की तै चाल ज्यागी पर पैंट बदलवा दो मेरी ।

कैप्टन बोल्या – क्यूं भाई, तेरी पैंट में के हो-ग्या ?

छोरा बोल्या – जी, पैंट में चौथ मार राख्या सै !!!

Haryanvi Joke : Funny Jatt Joke ट्रेनिंग

फौजी ट्रेनिंग कर के पहली बार छुट्टी आया । उसके घर आळे सारे कट्ठे हो-गे अर बूझण लागे – भाई, क्यूकर ट्रेनिंग होवै सै फौज में ?

फौजी ने सारे घरवाले लाइन में खड़े कर दिये (उनमें फौजी की बहू भी थी जो कि गर्भवती थी) ।

फौजी बोला – जवानो, सावधान ।

सारे सावधान खड़े हो गये ।

फिर फौजी बोला – छाती बाहर, पेट अन्दर !

उसकी बहू नै मुश्किल हुई । उसका बाबू समझ-ग्या बहू की दिक्कत अर बोल्या – “छोरे, यो के कहै सै तू” ?

फौजी बोला – खामोश, जब आफिसर आर्डर दे रहा हो तो किसी जवान को कुत्ते की तरह बीच में नहीं भौंकना चाहिये !!

 

Jatt Joke

एक जाट दिल्ली पहुँचा तो रेलवे स्टेशन पै अखबार वाले से बोला,
“एक अखबार देना।”
अखबार वाला: हिन्दी या अंग्रेजी का।
जाट:भाई कोई सा भी दे दे, मने तो रोटी ही लपेटनी है।


Jatt Joke

शिवजी ने जब जाट बनाया तो उसे सब कुछ दिया। तेज़ दिमाग़, लंबा चौड़ा शरीर, लेकिन ज़ुबान ना दी, तो पार्वती बोली, “प्रभु आपने कितना सुथरा आदमी बनाया है ये जाट, इसे भी ज़ुबान दे दो ताकि यह भी बोल सके।”
शिवजी बोले, “ना पार्वती यह बिना ज़ुबान के ही ठीक है।”
लेकिन पार्वती ना मानी शिवजी के पैर पकड़ लिए पार्वती की ज़िद के चलते शिवजी ने जाट को ज़ुबान दे दी। ज़ुबान मिलते ही जाट बोला, “रे शिवजी, या सुथरी सी लुगाई कित त मारी?”